Ganesh Gayatri Mantra – गणेश गायत्री मंत्र : गणपति की कृपा प्राप्ति का महामंत्र

Ganesh Gayatri Mantra – श्री गणेश गायत्री मंत्र : भगवान् श्री गणपति गणेश का एक शक्तिशाली और सिद्ध मंत्र है गणेश गायत्री मंत्र.

भगवान् श्री गणपति गणेश प्रथम पूज्य हैं. किसी भी शुभ कार्य से पूर्व भगवान् श्री गणेश जी की स्तुति और आराधना आवश्यक है तभी वह कार्य सही रूप से संपन्न होता है.

Also Read : Ganpati Aarti – गणेश भगवान की आरती

Ganesh Gayatri Mantra – श्री गणेश गायत्री मंत्र

Ganesh Gayatri Mantra

ॐ एकदंताय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात् |

गणेश गायत्री मंत्र ऑडियो
गणेश गायत्री मंत्र विडियो

उपर जो गणेश गायत्री मंत्र दी गयी है वही गणेश गायत्री मंत्र ज्यादा प्रचलन में है. निचे कुछ और गणेश गायत्री मंत्र दी जा रही है आप इनमे से किसी भी श्री गणेश गायत्री मंत्र का पाठ कर सकतें हैं. अगर आप चाहें तो आप इन सब श्री गणेश गायत्री मंत्र का पाठ कर सकतें हैं.

ॐ लम्बोदराय विद्महे महोदराय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात |

ॐ तत्पुरुषाय विद्महे वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात |

Also Read : Shri Hanuman Gayatri Mantra

Ganesh Gayatri Mantra in English Lyrics

Om Ekdantay Vidhmahe VakraTunday Dheemahi Tannoh Danti Prachodyat |

The Ganesh Gayatri Mantra given above is more popular than other Ganesh Gayatri Mantra. Below are some more Ganesh Gayatri Mantras being given, you can recite any of these Shri Ganesh Gayatri Mantra. If you want, you can recite all these Ganesha Gayatri Mantras.

Om Lambodray Vidhmahe Mahodray Dhimahi, Tanno Danti Prachodyat |

Om Tatpurushay Vidhmahe Vakratundaay Dheemahi, Tanno Danti Prachodayat |

Also Read : Shri Shiv Gayatri Mantra

Ganesh Gayatri Mantra Meaning

हे श्री एकदंत और टेढ़े शुढ वाले श्री गणेश जी हम आपसे बुद्धि और ज्ञान प्रदान करने की प्रार्थना करतें हैं. आप हमारी बुद्धि को सन्मार्ग में प्रेरित करें.

We pray to the one with the single-tusked elephant tooth who is omnipresent. We meditate upon and pray for greater intellect to the Lord with the curved, elephant-shaped trunk. We bow before the one with the single-tusked elephant tooth to illuminate our minds with wisdom.

Also Read : Gayatri Mantra with Meaning

गणेश गायत्री मंत्र का पाठ कैसे करें? How to chant?

  • गणेश गायत्री मंत्र का पाठ सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ करें.
  • श्री गणेश जी की आराधना और स्तुति करें.
  • सम्पूर्ण रूप से सुद्ध और स्वच्छ होकर ही गणेश गायत्री मंत्र का पाठ करें.
  • श्री गणेश गायत्री मंत्र का पाठ 9, 21, या फिर 108 बार करें.
  • 108 बार श्री गणेश गायत्री मंत्र का पाठ करना शुभ माना जाता है.
  • आप घर पर भगवान् श्री गणेश जी की प्रतिमा या फिर तस्वीर के सामने बैठकर श्री गणेश गायत्री मंत्र का पाठ कर सकतें हैं.
  • आप श्री गणेश जी के मंदिर में जाकर भी इस मंत्र का पाठ कर सकतें हैं.

Ganesh Gayatri Mantra Benefits

श्री गणेश गायत्री मंत्र के पाठ से मनुष्य को भगवान् श्री गणेश जी की कृपा की प्राप्ति होती है.

किसी भी कार्य को शुरू करने से पूर्व भगवान् श्री गणेश जी की स्तुति और पूजा करने और गणेश गायत्री मंत्र का पाठ करने से वह कार्य निर्बिघ्न रूप से संपन्न हो जाता है.

Also Read : Ganesh Ji Ki Aarti गणेश जी की आरती

PDF

गणेश गायत्री मंत्र को पीडीऍफ़ में डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए पीडीऍफ़ डाउनलोड बटन पर क्लिक करें.

Also Read Ganesh Chalisa – गणेश चालीसा

Video

Also Read : Ganpati Aarti in Marathi – सुखकर्ता दुःखहर्ता

Ganpati Ki Seva Mangal Meva – गणपति की सेवा मंगल मेवा

Deva Ho Deva Ganpati Deva Lyrics – देवा हो देवा गणपति देवा लिरिक्स

Siddhivinayak Aarti श्री सिद्धिविनायक आरती

Shri Ganesh Aarti – Om Jai Gauri Nandan श्री गणेश आरती – ॐ जय गौरी नंदन

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी अवस्य देखें और लाभ उठायें

Leave a Comment