Giriraj Ji Ki Aarti : श्री गिरिराज जी की आरती

Giriraj Ji Ki Aarti : श्री गिरिराज जी की आरती : गोवर्धन पूजा के दिन श्री गिरिराज जी की आरती करना बहुत ही शुभ फलदायक होता है. आप सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ श्री गिरिराज जी की आरती करें.

इसे भी देखें : Govardhan Aarti : आरती श्री गोवर्धन महाराज की

Giriraj Ji Ki Aarti : श्री गिरिराज जी की आरती

|| श्री गिरिराज आरती ||

Giriraj Ji Aarti

ॐ जय जय जय गिरिराज, स्वामी जय जय जय गिरिराज।
संकट में तुम राखौ, निज भक्तन की लाज।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

इन्द्रादिक सब सुर मिल तुम्हरौ ध्यान धरैं।
ऋषि मुनिजन यश गावें, ते भव सिन्धु तरैं।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

सुन्दर रूप तुम्हारौ श्याम सिला सोहें।
वन उपवन लखि-लखि के भक्तन मन मोहे।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

मध्य मानसी गंग कलि के मल हरनी।
तापै दीप जलावें, उतरें वैतरनी।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

नवल अप्सरा कुण्ड सुहावन-पावन सुखकारी।
बायें राधा कुण्ड नहावें महा पापहारी।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

तुम्ही मुक्ति के दाता कलियुग के स्वामी।
दीनन के हो रक्षक प्रभु अन्तरयामी।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

हम हैं शरण तुम्हारी, गिरिवर गिरधारी।
देवकीनन्दन कृपा करो, हे भक्तन हितकारी।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

जो नर दे परिकर्मा पूजन पाठ करें।
गावें नित्य आरती पुनि नहिं जनम धरें।।
ॐ जय जय जय गिरिराज …………………

इसे भी देखें : Radha Krishna Aarti : राधा कृष्णा की मनमोहक आरती

Lyrics : लिरिक्स

Om Jai Jai Giriraj, Swami Jai Jai Jai Giriraj.
Sankat Me Tum Rakho, Nij Bhaktan Ki Laj.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Indradik Sab Sur Mil Tumharo Dhyan Dhare.
Rishi Munijan yash Gaawen, Te Bhav Sindhu Tare.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Sundar Rup Tumharo Shyam Sila Sohen.
Van Upvan Lakhi – Lakhi Ke Bhaktan Man Mohe.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Madhya Maansi Gang Kali Ke Mal Harni.
Tape Deep Jalawe, Utare Vaitarani.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Naval Apsra Kund Suhavan Pavan Sukhkari.
Baayen Radha Kund Nahawe Maha Paap Hari.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Tumhi Mukti Ke Data Kaliyug Ke Swami.
Deenan Ke Ho Rakshak Prabhu Antaryaami.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Ham Hain Sharan Tumhari, Girivar Girdhari.
Devkinandan Kripa Karo, He Bhaktan Hitkari.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Jo Nar De Parikrma Pujan Path Kare.
Gave Nitya Aarti Puni Nahi Janam Dhare.
Om Jai Jai Jai Giriraj ……………

Also Read : कृष्ण की आरती – ॐ जय श्री कृष्ण हरे, प्रभु जय श्री कृष्ण हरे | Krishna Ki Aarti

Krishna Ji Ki Aarti – श्री कृष्णा जी की आरती

Shri Banke Bihari Ki Aarti – श्री बांके बिहारी जी की आरती

Shri Krishna Gayatri Mantra – श्री कृष्ण गायत्री मंत्र

Krishna Chalisa : श्री कृष्ण चालीसा

Krishna Bhagwan ki Aarti Kunj Bihari ki :श्रीकृष्ण आरती आरती कुंज बिहारी की

Leave a Comment