Shani Dev Ki Aarti

Shani Dev Ki Aarti : आरती श्री शनिदेव की Lyrics, PDF, Video

Shani Dev Ki Aarti : Jai Jai Shri Shani Dev Bhaktan Hitkari

Shani Dev Ki Aarti | श्री शनिदेव की आरती

ENGLISH FORMATE ( इंगलिश में )

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।
सूरज के पुत्र प्रभु छाया महतारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी………

श्याम अंक वक्र दृष्ट चतुर्भुजा धारी।
नीलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी………

क्रीट मुकुट शीश रजित दिपत है लिलारी।
मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी………

मोदक मिष्ठान पान चढ़त हैं सुपारी।
लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी………

देव दनुज ऋषि मुनि सुमरिन नर नारी।
विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी ॥
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी………

|| जय श्री शनिदेव ||

Jai Jai Shri Shani Deva Bhaktan Hitkari Aarti in English ( इंग्लिश में )

Shri Shani Aarti : जय शनि देवा जय शनि देवा

SHANI CHALISA / श्री शनि चालीसा

SHANI MANTRA / श्री शनि मन्त्र

आरती

चालीसा

हमने पूरी सावधानी से इस पोस्ट का प्रकाशन किया है फिर भी अगर कहीं भी कोई त्रुटी हो तो आप हमें निचे कमेंट बॉक्स में अवस्य लिखें. हम उसे सुधारने की सम्पूर्ण कोशिश करेंगे.

आप सबके कोई सुझाव या सलाह हो तो हमें निचे कमेंट में अवस्य लिखें. आप सबके सलाह से हमें बेहतर करने की प्रेरणा मिलती है.

भगवान् श्री शनिदेव जी आप सबकी रक्षा करें.

जय श्री शनिदेव

शनि धाम की जानकारी के लिए विकिपीडिया पर जाएँ.

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Comment