Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti

Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti | श्री खाटू श्याम जी आरती | Shyam Baba Ki Aarti

श्री खाटू श्याम जी की आरती ( Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti ) भगवान श्री खाटू श्याम जी को प्रसन्न करने और उनकी आराधना करने का बहुत ही उत्तम माध्यम है. जो भी भक्त सच्चे ह्रदय से खाटू श्याम की आरती ( Khatu Shyam Aarti ) गाता है. उसे श्री खाटू श्याम बाबा की कृपा प्राप्त होती है. उसकी सभी समस्याएँ दूर हो जाती हैं. खाटू श्याम बाबा की कृपा से उसे जीवन में सभी प्रकार की खुशियाँ और शुख की प्राप्ति होती है.

Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti Video

श्याम बाबा की आरती ( Shyam Baba Ki Aarti ) और भजन गाने से मन को असीम शान्ति की प्राप्ति होती है. बाबा की कृपा सदा बनी रहती है. सारे बिगडे काम बनने लग जातें हैं. जीवन में सफलता मिलने लगती है.

Shri Khatu Shyam Baba Ka Dham
Shri Khatu Shyam Baba Ka Dham

Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti

Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti
Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti

|| श्री खाटू श्याम जी की आरती ||

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे |
खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
…..

रतन जड़ित सिंहासन, सिर पर चंवर ढुरे |
तन केसरिया बागो, कुण्डल श्रवण पड़े ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
……

गल पुष्पों की माला, सिर पर मुकुट धरे |
खेवत धूप अग्नि पर दीपक ज्योति जले ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
…….

मोदक खीर चूरमा, सुवरण थाल भरे |
सेवक भोग लगावत, सेवा नित्य करे ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
………

झांझ कटोरा और घडियावल, शंख मृदंग घुरे |
भक्त आरती गावे, जय – जयकार करे ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
…….

जो ध्यावे फल पावे, सब दुःख से उभरे |
सेवक जन निज मुख से, श्री श्याम – श्याम उचरे ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
……..

श्री श्याम बिहारी जी की आरती, जो कोई नर गावे |
कहत भक्तजन, मनवांछित फल पावे ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
……..

जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे |
निज भक्तों के तुमने, पूरण काज करे ||
ॐ जय श्री श्याम हरे
……

Shyam Baba Ki Aarti

Shyam Baba Ki Aarti
Shyam Baba Ki Aarti

Om Jai Shri Shyam Hare,
Baba Jai Shri Shyam Hare.
Khatu Shyam Wirajat,
Anupam Rup Dhare.
Om Jai Shri Shyam Hare……..

Ratan Jadit Sinhasan,
Sir Par Chanwar Dhure.
Tan Kesariya Bago,
Kundal Shrawan Pade.
Om Jai Shri Shyam Hare……..

Gal Pushpon Ki Mala,
Sir Par Mukut Dhare.
Khewat Dhup Agni Par,
Dipak Jyoti Jale.
Om Jai Shri Shyam Hare……..

Modak Khir Churma,
Suwaran Thal Bhare.
Sewak Bhog Lagawat,
Sewa Nitya Kare.
Om Jai Shri Shyam Hare………

Jhanjh Katora Aur Ghadiyawal,
Shankh Mridang Ghure.
Bhakt Aarti Gawe,
Jay-Jaykar Kare.
Om Jai Shri Shyam Hare…….

Jo Dhyawe phal pawe,
Sab Dukh Se Ubhre.
Sewak Jan Nij Mukh Se,
Shri Shyam- Shyam Uchare.
Om Jai Shri Shyam Hare…….

Shri Shyam Bihari Ji Ki Aarti,
Jo Koi Nar Gawe.
Kahat Bhakt Jan,
Manwanchit Phal Pawe.
Om Jai Shri Shyam Hare……..

Jai Shri Shyam Hare,
Baba Jai Shri Shyam Hare.
Nij Bhakto Ke Tumne,
Puran Kaaj Kare.
Om Jai Shri Shyam Hare……

हाथ जोड़ विनती करू तो सुनियो चित्त लगाये

हाथ जोड़ विनती करू तो सुनियो चित्त लगाये.
दास आ गयो शरण में रखियो इसकी लाज.
धन्य ढूंढारो देश हे खाटू नगर सुजान.
अनुपम छवि श्री श्याम की दर्शन से कल्याण.
श्याम श्याम तो में रटूं श्याम हैं जीवन प्राण.
श्याम भक्त जग में बड़े उनको करू प्रणाम
.

Shri Khatu Shyam baba vandana
Shri Khatu Shyam baba

खाटू नगर के बीच में बण्यो आपको धाम.
फाल्गुन शुक्ला मेला भरे जय जय बाबा श्याम
.

फाल्गुन शुक्ला द्वादशी उत्सव भारी होए.
बाबा के दरबार से खाली जाये न कोए.
उमा पति लक्ष्मी पति सीता पति श्री राम.
लज्जा सब की राखियो खाटू के बाबा श्याम
.

हाथ जोड़ विनती करू तो सुनियो चित्त लगाये
हाथ जोड़ विनती करू तो सुनियो चित्त लगाये

पान सुपारी इलायची इत्तर सुगंध भरपूर.
सब भक्तो की विनती दर्शन देवो हजूर.
आलू सिंह तो प्रेम से धरे श्याम को ध्यान.
श्याम भक्त पावे सदा श्याम कृपा से मान
.

जय श्री श्याम बोलो जय श्री श्याम.
खाटू वाले बाबा जय श्री श्याम.
लीलो घोड़ो लाल लगाम.
जिस पर बैठ्यो बाबो श्याम
.

॥ ॐ श्री श्याम देवाय नमः ॥

Haath Jod Winati Karu,To Suniyo Chitt Lagaye.

Shyam Baba Ki Vandana
Shyam Baba Ki Vandana

Haath Jod Winati Karu,
To Suniyo Chitt Lagaye.
Daas Aa Gayo Sharan Me,
Rakhiyo Iski Laaj.
Dhanya Dhundharo Desh Hai
Khatu Nagar Sujan.
Anupam Chawi Shri Shyam Ki,
Darshan Se Kalyaan.
Shyam Shyam To Mai Ratu,
Shyam Hai Jiwan Pran.
Shyam Bhakt Jag Me Bade,
Unko Karu Pranam.

Haath Jod Winati Karu,To Suniyo Chitt Lagaye
Haath Jod Winati Karu,To Suniyo Chitt Lagaye

Khatu Nagar Ke Bich Me,
Banyo Aapko Dham.
Phalgun Shukla Mela Bhare,
jai Jai Baba Shyam.

Phalgun Shukla Dwadshi,
Utsaw Bhari Hoye.
Baba Ke Darbar Se
Khali Jaaye na Koy.
Uma Pati Lakshmi Pati,
Sita Pati Shri Shri Ram.
Lajja Sab Ki Rakhiyo
Khatu Ke Baba Shyam.

Shri Khatu Shyam Baba
Shri Khatu Shyam Baba

Paan Supari Ilaychi,
Ittar Sugandh Bharpur.
Sab Bhakton Ki Winati
Darshan Dewo Hajur.
Aalu Singh To Prem Se
Dhare Shyam Ko Dhyan.
Shyam Bhakt Paawe Sada,
Shyam Kripa Se Maan.

Jai Shri Shyam
Bolo Jai Shri Shyam.
Khatu Wale baba
Jai Shri Shyam.
Lilo Ghodo
Laal Lagam.
Jis Par Baithyo
Babo Shyam.

|| Om Shri Shyam Deway Namah. ||

Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti Download

Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti Download
Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti Download

To Download Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti ( Shyam Baba Ki Aarti ) in pdf click the pdf download button below.

If you want to print Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti print directly.

Shyam Baba Ki Aarti
Jai Shri Shyam Baba

श्री खाटू श्याम जी की आरती को पीडीऍफ़ में डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए डाउनलोड बटन को क्लिक करें. अगर आप चाहें तो इसे प्रिंट भी कर सकतें हैं.

इस आरती के प्रकाशन में सम्पूर्ण रूप से सावधानी रखी गयी है. फिर भी अगर कहीं कोई त्रुटी रह गयी हो तो. कृपया हमें कमेंट बॉक्स में लिखें. हम उसे जरुर ठीक करेंगे.

अगर आप कोई सुझाव या सलाह देना चाहतें हैं. या फिर कही कोई सुधार करवाना चाहतें हैं. तो कृपया हमें कमेंट में लिखें.हम आपके सुझाव और सलाह पर अवस्य कार्य करेंगे.

श्री खाटू श्याम बाबा आप सब की समस्त शुभ मनोकामनाओं को पूर्ण करें.

॥ ॐ श्री श्याम देवाय नमः ॥

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी अवस्य देखें.

Ram Raksha Stotra

Shri Ram Stuti

Krishna Chalisa

Sai Baba Ki Aarti

Radha Rani Ki Aarti

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Comment