Chandraghanta Mata Ki Aarti चंद्रघंटा माता की आरती

Chandraghanta Mata Ki Aarti चंद्रघंटा माता की आरती – नवरात्री के तीसरे दिन माँ चंद्रघंटा की आराधना और स्तुति की जाती है. माँ अत्यंत ही दयालु हैं. माँ अपने बच्चों पर हमेशा की कृपा दृष्टि बनाए रखती है. अत्यंत ही श्रद्धा और भक्ति के साथ माँ चंद्रघंटा की आराधना करें.

करिए माँ दुर्गे की आराधना Durga Ji Ki Aarti से.

Chandraghanta Mata Ki Aarti चंद्रघंटा माता की आरती

Chandraghanta Mata Ki Aarti
Chandraghanta Mata Ki Aarti

|| चंद्रघंटा माता की आरती ||

जय माँ चन्द्रघंटा सुख धाम।
पूर्ण कीजो मेरे काम॥

चन्द्र समाज तू शीतल दाती।
चन्द्र तेज किरणों में समाती॥

क्रोध को शांत बनाने वाली।
मीठे बोल सिखाने वाली॥

मन की मालक मन भाती हो।
चंद्रघंटा तुम वर दाती हो॥

सुन्दर भाव को लाने वाली।
हर संकट में बचाने वाली॥

हर बुधवार को तुझे ध्याये।
श्रद्दा सहित तो विनय सुनाए॥

मूर्ति चन्द्र आकार बनाए।
शीश झुका कहे मन की बाता॥

पूर्ण आस करो जगत दाता।
कांचीपुर स्थान तुम्हारा॥

करनाटिका में मान तुम्हारा।
नाम तेरा रटू महारानी॥

भक्त की रक्षा करो भवानी।

माँ ब्रह्मचारिणी की आराधना और स्तुति करें – Brahmacharini Mata Ki Aarti ब्रह्मचारिणी माता की आरती

Video विडियो

माँ चंद्रघंटा की आरती के कई विडियो निचे दिए गए हैं. आप इन विडियो को अवस्य देखें.

Chandraghanta Mata Ki Aarti
चंद्रघंटा माता की आरती

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी आप अवस्य देखें.

श्री दुर्गा गायत्री मंत्र – Maa Durga Gayatri Mantra

Durga Maa Aarti : Aarti Jag Janani आरती जगजननी मैं तेरी गाऊं

Jai Ambe Gauri Aarti जय अम्बे गौरी आरती

Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti In Hindi Lyrics माँ दुर्गा की स्तुति अम्बे तू है

Mata Shakumbhari Devi ki Aarti – माता शाकुम्भरी देवी की आरती

माँ चंद्रघंटा के बारे में और जानकारी आप विकिपीडिया से प्राप्त कर सकतें हैं.

Leave a Comment