Brahma Ji Ki Aarti ब्रह्मा जी की आरती

Brahma Ji Ki Aarti ब्रह्मा जी की आरती – श्री ब्रह्मा जी की आराधना और स्तुति करना हमेशा ही शुभ फलदायक होता है. सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ श्री ब्रह्म देव जी की आरती करें.

श्री ब्रह्मा जी की आराधना आप Brahma Gayatri Mantra – ब्रह्मा गायत्री मंत्र के जाप से भी कर सकतें हैं.

Brahma Ji Ki Aarti ब्रह्मा जी की आरती

Brahma Ji Ki Aarti
Brahma Ji Ki Aarti

|| ब्रह्मा जी की आरती ||

पितु मातु सहायक स्वामी सखा,
तुम ही एक नाथ हमारे हो ।

जिनके कुछ और आधार नहीं,
तिनके तुम ही रखवारे हो ।

सब भांति सदा सुखदायक हो,
दुःख निर्गुण नाशन हारे हो ।

प्रतिपाल करो सिधारे जग को,
अतिशय करुणा उर धारे हो ।

भूलें है हम तो तुमको,
तुम तो हमारी सुधि नाही बिसारे हो ।

उपकरण को कछु अंत नहीं,
छीन ही छीन जो विस्तार हो ।

महाराज माह महिमा तुम्हारी,
मुझे बिरले बुधवार हो ।

शुभ शांति निकेतन प्रेमनिधि,
मन मंदिर के उजियारे हो |
इस जीवन के तुम जीवन हो,
इन् प्रानन के तुम प्यारे हो ।

तुम सो प्रभु पाए,’ प्रताप हरी’,
केहि के अब और सहारे हो ।

Video विडियो

श्री ब्रह्मा जी की आरती विडियो निचे दिया गया है. आप इन विडियो को जरुर देखें.

Brahma Ji Ki Aarti

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी जरुर देखें.


Narsingh Bhagwan Ki Aarti | नरसिंह भगवान की आरती

Budhvar Ki Aarti – बुधवार की आरती – Wednesday Aarti

Aarti Sankat Hari Ki : आरती संकट हारी की

Chandra Dev Ki Aarti : चन्द्र देव की आरती : Chandrama Ki Aarti

Shri Hanuman Ji Ki Aarti – श्री हनुमान जी की आरती

Shiv ji ki Aarti : शिव जी की आरतियों का संग्रह

Vishnu Bhagwan ki Aarti भगवान विष्णु की आरती Om jai Jagdish Hare

श्री ब्रह्मा जी के बारे में और जानकारी आप विकिपीडिया से प्राप्त कर सकतें हैं

HostArmada - Affordable Cloud SSD Web Hosting

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *