Shri Hanuman Bisa | श्री हनुमान बीसा

Shri Hanuman Bisa | श्री हनुमान बीसा – भगवान श्री हनुमान जी की आराधना और स्तुति के लिए आप श्री हनुमान बीसा का पाठ कर सकतें हैं. हनुमान बीसा भी हनुमान चालीसा की तरह ही एक अत्यंत ही शक्तिशाली श्लोक है.

यशपाल जी के द्वारा श्री हनुमान बीसा की रचना की गयी है. सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ श्री हनुमान बीसा का पाठ करें.

Shri Hanuman Bisa | श्री हनुमान बीसा

Shri Hanuman Bisa
Shri Hanuman Bisa

|| श्री हनुमान बीसा ||

|| दोहा ||

राम भक्त विनती करूँ,सुन लो मेरी बात । 
दया करो कुछ मेहर उपाओ, सिर पर रखो हाथ ।। 

|| चौपाई ||

जय हनुमन्त, जय तेरा बीसा,कालनेमि को जैसे खींचा ।।१॥

करुणा पर दो कान हमारो,शत्रु हमारे तत्क्षण मारो ।।२॥

राम भक्त जय जय हनुमन्ता, लंका को थे किये विध्वंसा ।।३॥

सीता खोज खबर तुम लाए, अजर अमर के आशीष पाए ।।४॥

लक्ष्मण प्राण विधाता हो तुम,राम के अतिशय पासा हो तुम ।।५॥

जिस पर होते तुम अनुकूला, वह रहता पतझड़ में फूला ।।६॥

Get a 70% discount on Shared, WordPress Hosting, and Reseller Hosting. On top of that, you get a free domain registration for one year.

राम भक्त तुम मेरी आशा, तुम्हें ध्याऊँ मैं दिन राता ।।७॥

आकर मेरे काज संवारो, शत्रु हमारे तत्क्षण मारो ।।८॥

तुम्हरी दया से हम चलते हैं, लोग न जाने क्यों जलते हैं ।।९॥

भक्त जनों के संकट टारे, राम द्वार के हो रखवारे ।।१०॥

मेरे संकट दूर हटा दो, द्विविधा मेरी तुरन्त मिटा दो ।।११॥

रुद्रावतार हो मेरे स्वामी, तुम्हरे जैसा कोई नाहीं ।।१२॥

ॐ हनु हनु हनुमन्त का बीसा, बैरिहु मारु जगत के ईशा ।।१३॥

तुम्हरो नाम जहाँ पढ़ जावे, बैरि व्याधि न नेरे आवे ।।१४॥

Get a 70% discount on Shared, WordPress Hosting, and Reseller Hosting. On top of that, you get a free domain registration for one year.

तुम्हरा नाम जगत सुखदाता, खुल जाता है राम दरवाजा ।।१५॥

संकट मोचन प्रभु हमारो, भूत प्रेत पिशाच को मारो ।।१६॥

अंजनी पुत्र नाम हनुमन्ता, सर्व जगत बजता है डंका ।।१७॥

सर्व व्याधि नष्ट जो जावे, हनुमद् बीसा जो कह पावे ।।१८॥

संकट एक न रहता उसको, हं हं हनुमंत कहता नर जो ।।१९॥

ह्रीं हनुमंते नमः जो कहता,उससे तो दुख दूर ही रहता ।।२०॥

|| दोहा ||

मेरे राम भक्त हनुमन्ता, कर दो बेड़ा पार ।

हूँ दीन मलीन कुलीन बड़ा, कर लो मुझे स्वीकार ।।

राम लखन सीता सहित, करो मेरा कल्याण ।

ताप हरो तुम मेरे स्वामी, बना रहे सम्मान ।।

प्रभु राम जी माता जानकी जी, सदा हों सहाई ।

संकट पड़ा यशपाल पे, तभी आवाज लगाई ।।

हनुमान बीसा का पाठ करना अत्यंत ही शुभ फलदायक होता है. रोगों और कष्टों से मुक्ति मिलती है. साथ ही नकारात्मक शक्तियों से रक्षा होती है.

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी देखें.

Shri Hanuman Ji Ki Aarti – श्री हनुमान जी की आरती

Hanuman Gayatri Mantra श्री हनुमान गायत्री मंत्र

Hanuman Chalisa Meaning in Hindi – हनुमान चालीसा हिंदी अर्थ के साथ

Maruti Stotra – मारुती स्तोत्र – हनुमान जी का एक शिद्ध मन्त्र

Hanuman Bahuk | हनुमान बाहुक

Sankat Mochan Hanuman Ashtak | संकट मोचन हनुमानाष्टक

Hanuman Shabar Mantra : हनुमान जी को बुलाने का शक्तिशाली मंत्र

Bajrang Baan with Lyrics : हनुमान जी का अचूक मन्त्र बजरंग बाण 

Mehandipur Balaji ki Aarti | मेहन्दीपुर बालाजी की आरती

Get a 70% discount on Shared, WordPress Hosting, and Reseller Hosting. On top of that, you get a free domain registration for one year.

Leave a Comment