Budhwar Aarti : बुधवार आरती : Aarti of Wednesday

Budhwar Aarti : बुधवार आरती : Aarti of Wednesday : बुधवार के दिन दिए गए आरती को श्रद्धा पूर्वक गाते हुए आरती करने से बहुत ही शुभ फल की प्राप्ति होती है.

बुधवार के दिन भगवान् श्री कृष्ण जिन्हें युगल किशोर जी भी कहा जाता है की आरती करना बहुत ही शुभ माना गया है. साथ ही इस दिन बुध ग्रह की स्तुति और आराधना करना भी बहुत ही शुभ माना गया है.

इसे भी पढ़ें : Budh Gayatri Mantra – बुध गायत्री मंत्र

Budhwar Aarti : बुधवार आरती : Aarti of Wednesday

|| बुधवार आरती ||

आरती युगलकिशोर की कीजै।
तन मन धन न्योछावर कीजै॥

गौरश्याम मुख निरखन लीजै।
हरि का रूप नयन भरि पीजै॥

रवि शशि कोटि बदन की शोभा।
ताहि निरखि मेरो मन लोभा॥

ओढ़े नील पीत पट सारी।
कुंजबिहारी गिरिवरधारी॥

फूलन सेज फूल की माला।
रत्न सिंहासन बैठे नंदलाला॥

कंचन थार कपूर की बाती।
हरि आए निर्मल भई छाती॥

श्री पुरुषोत्तम गिरिवरधारी।
आरती करें सकल नर नारी॥

नंदनंदन बृजभान किशोरी।
परमानंद स्वामी अविचल जोरी॥

इसे भी देखें : Krishna Bhagwan ki Aarti Kunj Bihari ki :श्रीकृष्ण आरती आरती कुंज बिहारी की

Lyrics : लिरिक्स

Aarti Yugalkishor Ki Kije.
Tan Man Dhan Nyochavar Kije.

Gourshyam Mukh Nirkhan Lije.
Hari Ka Rup Nayan Bhari Pije.

Ravi Shashi Koti Badan Ki Shobha.
Tahi Nirakhi Mero Man Lobha.

Odhe Nil Pit Pat Sari.
Kunj Bihari Girivardhari.

Phulan Sej Phul Ki Mala.
Ratna Sinhasan Baithe Nandlala.

Kanchan Thar Kapoor Ki Bati.
Hari Aaye Nirmal Bhai Chhati.

Shri Purushottam Girivardhari.
Aarti Kare Sakal Nar Nari.

Nandnandan Brijbhan Kishori.
Parmanand Swami Avichal Jori.

इन आरतियों को भी जरुर देखें :

Govardhan Aarti : आरती श्री गोवर्धन महाराज की

Giriraj Ji Ki Aarti : श्री गिरिराज जी की आरती

Radha Krishna Aarti : राधा कृष्णा की मनमोहक आरती

Shri Banke Bihari Ki Aarti – श्री बांके बिहारी जी की आरती

Aarti Shankar ji ki : Shankar Bhagwan Ki Aarti : भगवान शंकर की आरती

Satyanarayan Aarti | श्री सत्यनारायण जी की आरती

Shani Dev Ki Aarti : आरती श्री शनिदेव की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *