Satyanarayan Aarti | श्री सत्यनारायण जी की आरती | Download

Satyanarayan ji ki Aarti is a great source to pleased Lord Satyanarayan. सत्यनारायण जी की आरती भगवान सत्यनारायण को प्रसन्न करने का एक उत्तम साधन है. सत्यनारायण व्रत और पूजा हमारे देश में काफी प्रचलित है. लोग कोई भी शुभ कार्य हो उसमे सत्यनारायण व्रत और कथा आवासी करतें हैं.

Satyanarayan Puja Aarti Video

सत्यनारायण भगवान की पूजा करने के पश्चात सत्यनारायण जी की आरती पूरी श्रद्धा और भक्ति के साथ करना चाहिए.

सत्यनारायण जी की पूजा करना बहुत ही शुभ होता है. इस व्रत और पूजा को करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है. रोग और कष्ट से मुक्ति मिलती है. धन सम्पति की प्राप्ति होती है. जीवन में सफलता मिलती है.

Satyanarayan Puja Aarti

shri satyanarayan ji ki aarti
Satyanarayan puja Aarti

|| श्री सत्यनारायण जी की आरती ||

Satyanarayan Puja Aarti Video

ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय लक्ष्मीरमणा |
सत्यनारायण स्वामी ,जन पातक हरणा ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय….

रत्नजडित सिंहासन , अद्भुत छवि राजें |
नारद करत निरतंर घंटा ध्वनी बाजें ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय….

प्रकट भयें कलिकारण ,द्विज को दरस दियो |
बूढों ब्राम्हण बनके ,कंचन महल कियों ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

दुर्बल भील कठार, जिन पर कृपा करी |
च्रंदचूड एक राजा तिनकी विपत्ति हरी ॥
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

वैश्य मनोरथ पायों ,श्रद्धा तज दिन्ही |
सो फल भोग्यों प्रभूजी , फेर स्तुति किन्ही ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

भाव भक्ति के कारन .छिन छिन रुप धरें |
श्रद्धा धारण किन्ही ,तिनके काज सरें ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

ग्वाल बाल संग राजा ,वन में भक्ति करि |
मनवांचित फल दिन्हो ,दीन दयालु हरि ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

चढत प्रसाद सवायों ,केदली फल मेवा |
धूप दीप तुलसी से राजी सत्य देवा ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

सत्यनारायणजी की आरती जो कोई नर गावे |
ऋद्धि सिद्धी सुख संपत्ति सहज रुप पावे ||
ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय लक्ष्मीरमणा |
सत्यनारायण स्वामी ,जन पातक हरणा ||

ॐ जय लक्ष्मीरमणा स्वामी जय…..

Satyanarayan Katha Aarti

Satyanarayan katha
Satyanarayan Katha Aarti

Om Jai Lakshmiramna, Swami Jay Lakshmiramna.
Satyanarayan Swami, Jan Paatak Harna.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay ……..

Ratnajadit Sinhasan, Adbhut chawi raje,
Naarad karat nirantar ghanta dhwani baaje.
Om Jay Lakshmiramna swami Jay……

Prakat bhaye kalikaaran, Dwij ko daras diyo.
Budho brahman banke, Kanchan mahal kiyo.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay …….

Durbal Bhil kathar, Jin par kripa kari.
Chandrchur ek raja tinki wipati hari.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay…….

Waishya Manorath paayo,shraddha taj dinhi.
So phal bhogyo prabhuji, fer stuti kinhi.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay……

Bhaw Bhakti ke kaaran chhin chhin rup dhare.
Shraddha Dharan kinhi, tinke kaaj sare.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay….

Gwal bal sang raja, wan me bhakti kari.
Manwanchit phal dinho, din dayalu hari.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay…..

Chadhat prasad sawayo,kedli phal mewa.
Dhup dip tulsi se raji satya dewa.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay……

Satyanarayan ji ki Aarti jo koi nar gaawe.
Riddhi siddhi sukh sampati sahaj rup paawe.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay…….

Om Jay Lakshmiramna Swami Jay Lakshmiramna.
Satyanarayan swami, Jan paatak harna.
Om Jay Lakshmiramna Swami Jay……

Vishnu Ji ki Aarti/विष्णु भगवान की आरती

सत्यनारायण जी की आरती कैसे करें?

  • श्री सत्यनारायण जी की आरती सत्यनारायण जी की कथा समाप्ति के पश्चात करें.
  • सत्यनारायण जी की पूजा आप किसी भी दिन कर सकतें हैं.
  • परन्तु पूर्णिमा और संक्रांति का दिन सत्यनारायण भगवान की पूजा के लिए उत्तम होता है.
  • सत्यनारायण जी की पूजा के लिए संध्याकाल का समय सर्वथा उपयुक्त होता है.
  • वैसे आप किसी भी समय स्वामी सत्यनारायण जी की पूजा कर सकतें हैं.
  • सुबह का समय भी उत्तम होता है.
  • जिस दिन सत्यनारायण जी की पूजा करनी हो उस दिन उपवास रखें.
  • फिर किसी योग्य पंडित या पुरोहित के निर्देशानुसार सम्पूर्ण विधि विधान से भगवान सत्यनारायण जी की पूजा करें.
  • सत्यनारायण जी की कथा का श्रवन पूरी तन्मयता से करें.
  • पूजा की समाप्ति के पश्चात सत्यनारायण भगवन की आरती करें.
  • उसके पश्चात प्रसाद का वितरण करें.

सत्यनारायण भगवान की आरती से लाभ

  • भगवान सत्यनारायण जी की पूजा और आरती करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है.
  • रोगों और कष्टों से मुक्ति भगवान सत्यनारायण जी की कृपा से मिलती है.
  • जीवन में सुख-शान्ति आती है.
  • धन सम्पति में बृद्धि होती है.
  • दुःख दरिद्रता से मुक्ति मिलती है.
  • जीवन में सफलता श्री सत्यनारायण जी की कृपा से मिलती है.

Read More/ और पढ़ें

Gayatri Mata Aarti/गायत्री माता की आरती

Brihaspati Dev ki Aarti/बृहस्पति देव की आरती

Radha ji ki Aarti/राधा रानी की आरती

Mata Kali ji ki Aarti/माता काली जी की आरती

Surya Dev Aarti/सूर्य देव की आरती

Krishna Bhagwan ki Aarti/कृष्णा भगवान की आरती

RamChandraji ki Aarti/रामचन्द्रजी की आरती

Bhairav Aarti/भैरव आरती

Hanuman Aarti/हनुमान जी की आरती

Durga ji ki Aarti/दुर्गा माता की आरती

Lakshmi ji ki Aarti/लक्ष्मी जी की आरती

Shani Dev ki Aarti/शनि देव की आरती

Satyanarayan ji ki Aarti Download

To download Satyanarayan ji ki Aarti in Hindi pdf and Satyanarayan ji ki Aarti in English pdf click the download button below.

सत्यनारायण जी की आरती को पीडीऍफ़ फ़ॉर्मेट में डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.

satyanarayan aarti
Satyanarayan Bhagwan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *