Namdev Ji Ki Aarti संत नामदेव जी की आरती

Namdev Ji Ki Aarti संत नामदेव जी की आरती – संत नामदेव जी की दो आरती आज के इस पोस्ट में प्रकाशित की जा रही है.

इसे भी देखें – Shri Ravidas Ji Ki Aarti : श्री रविदास जी की आरती

Namdev Ji Ki Aarti संत नामदेव जी की आरती

|| संत नामदेव जी की आरती ||

ॐ जय जय नामदेव प्रभुजी की,
कीरत अमित जगत बिचनी की

जय जय नामदेव …………

प्रथम सनत अवतार है लीन्हो ,
हंस रूप में प्रभु को चिन्हो,
महिमा यही जन्म आदिहि की

जय जय नामदेव …………

सुनहु भयो द्वितीय अवतारा,
राम नाम प्रहलाद उचारा,
तुव हित रूप नरसिंह हरी धरा,
प्रभु मय लाना सब संसारा,
छाई कीरत है भक्ति की

जय जय नामदेव …………

तृतीया जन्म नाही गृह आये,
अंगद त्रेता माही कहाये,
रामरूप के दर्शन पाए,
रावणादि के मान घटाए,
वहा कथा कही सिया पी की

जय जय नामदेव …………

द्वापर में उथव कहलाये,
श्रीकृष्ण ने सखा बनाये,
श्री राधा को योगी बताये,
महिमा हरी नाम की गाये,
भजन वीनू आयु है फीकी

जय जय नामदेव …………

काली में नाम नामदेव पायें,
दर्शन विट्ठल की नित भाये,
चहू दिशि जाये चरित्र दिखाए,
घूम किमड और गौव जिलाये,
बलिहारी हरी तुम शक्ति की

जय जय नामदेव …………

आरती जो जन यह नित गाये,
शीघ्र पदारथ चारहु पाये,
मोहन प्रभु को शीश नवाये,
जन्म मरण के दुःख नसावे,
मिठे त्रास मय भव रजी की

जय जय नामदेव …………

इसे भी देखें – Shri Sanu Ji Ki Aarti – श्री संणु जी की आरती

Sant Namdev Ji Aarti

|| संत नामदेव जी आरती ||

जन्मता पांडुरंगे | जिव्हेवरी लिहिले |
शतकोटी अभंग | प्रमाण कवित्व रचिले || 1 ||

जय जयाजी भक्तरायां | जिवलग नामया |
आरती ओवाळिता | चित्त पालटे काया || धृ.||

घ्यावया भक्तिसुख | पांडुरंगे अवतार |
धरुनियां तीर्थमिषें | केला जगाचा उद्धार || जय.|| 2 ||

प्रत्यक्ष प्रचीती हे | वाळवंट परिस केला |
हारपली विषमता | द्दैतबुद्धी निरसली || जय.|| 3 ||

समाधि माहाद्वारी श्रीविठ्ठलचरणी |
आरती ओवाळितो | परिसा कर जोडू || जय जयाजी|| 4 ||

हमारे द्वारा प्रकाशित कुछ अन्य प्रकाशनों की सूचि निचे दी गयी है. आप इन्हें जरुर देखें.

Maharaja Agrasen Ji Ki Aarti : महाराज अग्रसेन जी की आरती

Venkatesh Aarti | श्री वेंकटेश आरती

Narsingh Bhagwan Ki Aarti | नरसिंह भगवान की आरती

Baba Ramdev Ji Ki Aarti – बाबा रामदेव जी की आरती

Shani Bhagwan Ki Aarti शनि भगवान् की आरती : जय जय शनि देव महाराज

Vitthal Aarti : Vitthalachi Aarti : Lyrics : PDF : येई हो विठ्ठले माझे Yei oh Vitthale

Sai Baba ki Aarti : साईं बाबा की आरती

संत नामदेव जी के बारे में और जानकारी आप विकिपीडिया से प्राप्त कर सकतें हैं.

Namdev Ji Ki Aarti

Leave a Comment