Shri Sanu Ji Ki Aarti – श्री संणु जी की आरती

Shri Sanu Ji Ki Aarti श्री संणु जी की आरती – सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ श्री संणु जी की आरती करें.

Shri Sanu Ji Ki Aarti श्री संणु जी की आरती

धूप दीप घुत साजि आरती |
वारने जाउ कमलापति ||

मंगलाहरि मंगला |
नित मंगल राजा राम राई को || रहाउ०

उत्तम दियरा निरमल बाती |
तुही निरंजन कमला पाती |

रामा भगति रामानंदु जानै |
पूरन परमानन्द बखानै |

मदन मूरति भै तारि गोबिन्दे |
सैणु भणै भजु परमानन्दे |

Lyrics – लिरिक्स

Dhoop Deep Ghut Saji Aarti.
Varne Jaau Kamlapati.

Manglahari Mangla,
Nit Mangal Raja Ram Raai Ko.

Uttam Diyara Nirmal Bati,
Tuhi Niranjan Kamla Pati.

Rama Bhagati Ramanandu Jane,
Pooran Parmanand Bakhane.

Madan Moorati Bhai Tari Govinde,
Sainu Bhanae Bhaju Parmanande.

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी एक बार अवस्य देखें –

Balkrishna Aarti : बालकृष्ण आरती

Radha Krishna Aarti : राधा कृष्णा की मनमोहक आरती


कृष्ण की आरती – ॐ जय श्री कृष्ण हरे, प्रभु जय श्री कृष्ण हरे | Krishna Ki Aarti

Krishna Ji Ki Aarti – श्री कृष्णा जी की आरती

Shri Krishna Gayatri Mantra – श्री कृष्ण गायत्री मंत्र

Krishna Chalisa : श्री कृष्ण चालीसा

Krishna Bhagwan ki Aarti Kunj Bihari ki : श्रीकृष्ण आरती आरती कुंज बिहारी की

Giriraj Ji Ki Aarti : श्री गिरिराज जी की आरती

Govardhan Aarti : आरती श्री गोवर्धन महाराज की

Shri Bhagwat Bhagwan Ki Aarti – श्री भागवत भगवान की है आरती

Leave a Comment