Baba Ramdev Ji Ki Aarti – बाबा रामदेव जी की आरती

Baba Ramdev Ji Ki Aartiबाबा रामदेव जी की आरती – श्री रामदेव जी की आरती का संग्रह निचे दिया जा रहा है.

आज के इस पोस्ट में हम बाबा रामदेव जी के 4 प्रचलित आरतियों का संग्रह प्रकाशित कर रहें हैं.

इस विडियो को जरुर देखें –

Ramdev Ji Ki Aarti

आप किसी भी आरती के द्वारा श्री रामदेव जी की आराधना और स्तुति कर सकतें हैं. बाबा रामदेव जी आप सब पर अपनी कृपा दृष्टि हमेशा ही बनाये रखेंगे. और आप सबको सुख और समृद्धि प्रदान करेंगे.

Baba Ramdev Ji Ki Aartiबाबा रामदेव जी की आरती

Baba Ramdev Ji Ki Aarti
Baba Ramdev Ji Ki Aarti

|| बाबा रामदेव जी की आरती ||

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।
घर अजमल अवतार लियो |

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

गंगा जमुना बहे सरस्वती।
रामदेव बाबो स्नान करे।

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

घिरत मिठाई बाबा चढे थारे चूरमो
धूपारी महकार पङे

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

ढोल नगाङा बाबा नोबत बाजे
झालर री झणकार पङे

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

दूर-दूर सूं आवे थारे जातरो
दरगा आगे बाबा नीवण करे।

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

हरी सरणे भाटी हरजी बोले।
नवों रे खण्डों मे निसान घुरे।

लाछां सुगणा करे थारी आरती।
हरजी भाटी चंवर ढोले।

पिछम धरां सूं म्हारा पीर जी पधारिया।

jai baba ramdev pir

|| जै बाबा रामदेव् ||

Shri Ramdev Ji Ki Aarti

Shri Ramdev Ji Ki Aarti

|| श्री रामदेव जी की आरती ||

Shri Ramdev Ji Ki Aarti
Shri Ramdev Ji Ki Aarti

जय अजमल लाला प्रभु, जय अजमल लाला ।।
भक्‍त काज कलयुग में लीनो अवतारा, जय अजमल लाल ।।
जय अजमल लाला प्रभु………….

अश्‍वनकी अवसारी शोभीत केशरीया जामा ।
शीस तुर्रा हद शोभीत हाथ लीया भाला ।।
जय अजमल लाला प्रभु………….

डुब्‍त जहाज तीराई भैरव दैत्‍य मारा ।
कृष्‍णकला भयभजन राम रूणेचा वाला ।।
जय अजमल लाला प्रभु………….

अंधन को प्रभु नेत्र देत है सु संपती माया ।
कानन कुंडल झील मील गल पुष्‍पनमाल ।।
जय अजमल लाला प्रभु………….

कोढी जय करूणा कर आवे होंय दुखीत काया ।
शरणागत प्रभु तोरी भक्‍तन सुन दाया ।।
जय अजमल लाला प्रभु………….

आरती रामदेव जी की नर नारी गावे ।
कटे पाप जन्‍म-जन्‍म के मोंक्षां पद पावे ।।
जय अजमल लाला प्रभु………….

जय अजमल लाला प्रभु, जय अजमल लाला ।
भक्‍त काज कलयुग में लीनो अवतारा, जय अजमल लाल ।।
जय अजमल लाला प्रभु………….

Baba Ramdev Ji Ki Aarti

Baba Ramdev Ji Ki Aarti

|| बाबा रामदेव जी की आरती ||

ॐ जय श्री रामादे स्वामी जय श्री रामादे।
पिता तुम्हारे अजमल मैया मेनादे।।
ओउम जय श्री रामादे ………….

रूप मनोहर जिसका घोड़े असवारी।
कर में सोहे भाला मुक्तामणि धारी।।
ओउम जय श्री रामादे ………….

विष्णु रूप तुम स्वामी कलियुग अवतारी।
सुरनर मुनिजन ध्यावे जावे बलिहारी।।
ओउम जय श्री रामादे ………….

दुख दलजी का तुमने भर में टारा।
सरजीवन भाण को तुमने कर डारा।।
ओउम जय श्री रामादे ………….

नाव सेठ की तारी दानव को मारा।
पल में कीना तुमने सरवर को खारा।।
ओउम जय श्री रामादे ………….

Shri Baba Ramdev Ji Ki Aarti

|| श्री बाबा रामदेव जी की आरती ||

Jai Shri Ramdev Avtaari

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।
सतयुग में बाबा विष्‍णु बन आए, मधु-कटैभ को मार गिराये
ब्रह्मा जी को आप ऊबारो, देव श्री कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी ……………….

त्रेता में बाबा राम बन आए, रावण को मार गिराये
महाबीर की आप उबारो, पुरूषोत्‍तम कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी ……………….

द्वापर में बाबा कृष्‍ण बन आए, कंस को मार गिराये
सुदामा को आप उबारो, वासुदेव कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी ……………….

कलयुग में बाबा रामदेव बन आए, भैरों-राकस को मार गिराये
बोहिता बनिए को आप उबारो, रामपीर कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी ……………….

माता मैनादे पिता अजमाल जी, बाबा संग में डाली आये
देबो साबो पुत्र थारे, नेतली कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी ……………….

श्री रामपीर की आरती, जो कोई नर गाये
जन्‍म-जन्‍म के कष्‍ट मिटे, भव सागर तर जाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी ……………….

गरू नरसिंह पाण्‍डे शरणे – ”बाबा”, प्रकाश पाण्‍डे गाये
प्रेमनगर में मन्दिर तिहारा, गढ़ सिरसा कहलाये ।।

जय श्री रामदेव अवतारी, कलयुग में धणी आप पधारे ।

निवेदन :

हमारे द्वारा प्रकाशित अन्य आरतियों को भी एक बार जरुर देखें.

जय आद्य शक्ति आरती

श्री खाटू श्याम जी की आरती

श्री रामचन्द्र जी की आरती

माँ बगलामुखी की आरती

माता शाकुम्भरी देवी की आरती

माँ ज्वाला देवी की आरती

माँ विन्ध्येश्वरी की आरती

माता नैना देवी की आरती

जगदम्बा माता की आरती

यमुना जी की आरती

ॐ जय गौरी नंदन आरती

श्री भागवत भगवान की आरती

गुरु नानक जी की आरती

ॐ जय श्री कृष्ण हरे

कृष्णा जी की आरती

माता सीता मैथिलि आरती

सीता माता की आरती

लक्ष्मण जी की आरती

श्री बांके बिहारी की आरती

श्री हनुमान जी की आरती

नर्मदा आरती

श्री जगन्नाथ आरती

शिव जी की आरतियाँ

गणपति आरती

गणपती आरती मराठी

शनि भगवान की आरती

श्री शनि आरती

ॐ जय जगदीश हरे

श्री बाबा बालकनाथ की आरती

आरती जग जननी मैं तेरी गाऊँ

मंगल की सेवा सुन मेरी देवा

जग जननी जय जय

अम्बे तू है जगदम्बे काली

बजरंगबली आरती

जय अम्बे गौरी आरती

तुलसी जी की आरती

कुबेर जी की आरती

विट्ठल आरती

विश्वकर्मा जी की आरती

चिंतपूर्णी आरती

अन्नपूर्णा आरती

जगन्नाथ आरती

केदारनाथ आरती

बद्रीनाथ आरती

शंकर जी की आरती

भगवद्गीता की आरती

पार्वती आरती

महावीर स्वामी की आरती

शीतला माता की आरती

माता वैष्णो देवी की आरती

साईं बाबा की आरती

संतोषी माता की आरती

सत्यनारायण आरती

गायत्री माता आरती

बृहस्पति देव की आरती

राधा आरती

माता काली की आरती

सूर्य देव की आरती

आरती कुंज बिहारी की श्री कृष्ण आरती

राम आरती

सरस्वती आरती

गंगा आरती

शनि देव आरती

लक्ष्मी जी की आरती

दुर्गा आरती

विष्णु भगवान की आरती

ॐ जय शिव ओमकारा

गणेश जी की आरती

भैरव आरती

रामायण आरती

सालासर बालाजी आरती

मेहंदीपुर बाला जी की आरती

आग्रह

इस प्रकाशन में अगर कहीं भी किसी भी प्रकार के सुधार की जरुरत है तो आप हमें निचे कमेंट बॉक्स में जरुर लिखें.

आप अपने सुझाव हमें निचे कमेंट बॉक्स में लिखें.

साथ ही बाबा श्री रामदेव जी के बारे में अपने अनुभव और विचार हमें कमेंट बॉक्स में लिखें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *