Babosa Maharaj Ki Aarti बाबोसा महाराज की आरती

Babosa Maharaj Ki Aarti बाबोसा महाराज की आरती – बाबोसा चुरू वाले की आरती को श्रद्धा और भक्ति के साथ गाते हुए बाबोसा महाराज की आरती करें.

प्रभु श्री रामचंद्र जी की स्तुति करें Bhaye Pragat Kripala के पाठ से.

Babosa Maharaj Ki Aarti बाबोसा महाराज की आरती

Babosa Bhagwan Ki Aarti

|| बाबोसा महाराज की आरती ||

Babosa Maharaj Ki Aarti

देवा बाबोसा चूरू वाले,
भक्तो के है रखवाले,
रिम झिम उतारे तेरी आरती,
बाबोसा रिम झिम उतारे तेरी आरती ||

सिर पे मुकुट कान में कुंडल,
हाथ में सोटा साजे,
जग मग जग मग रूप निराला,
जग मग जग मग रूप निराला,
भुत प्रेत सब भागे,
जय हो माता छगनी के लाले,
कोठारी कुल के तारे,
रिम झिम उतारे तेरी आरती,
बाबोसा रिम झिम उतारे तेरी आरती ||

बालाजी ने राज तिलक से,
अपनी गोद बिठाया,
नीमसर पांचू भरे है मेला,
नीमसर पांचू भरे है मेला,
भक्तो के मन है भाया,
सबके मन को हरषाने वाले,
विपदा मिटाने वाले,
रिम झिम उतारे तेरी आरती,
बाबोसा रिम झिम उतारे तेरी आरती ||

भक्ति भाव से करे आरती,
तेरे सारे पुजारी,
मन दर्पण में बसों बाबोसा,
मन दर्पण में बसों बाबोसा,
कलयुग के अवतारी,
तेरा मंजूदेवी गुण गाये,
गोपाला शीश नवाये,
रिम झिम उतारे तेरी आरती,
बाबोसा रिम झिम उतारे तेरी आरती ||

देवा बाबोसा चूरू वाले,
भक्तो के है रखवाले,
रिम झिम उतारे तेरी आरती,
बाबोसा रिम झिम उतारे तेरी आरती ||

इसे भी देखें – Aarti Pretraj Sarkar Ki | प्रेतराज सरकार की आरती

विडियो

श्री बाबोसा महाराज की आरती विडियो निचे दिया गया है. आप इन विडियो को अवस्य देखें.

Babosa Maharaj Ki Aarti

अगर आप श्री बाबोसा महाराज के बारे में और जानकारी चाहतें हैं तो निचे दिए गए बटन को दबाएँ. इससे आप दुसरे साईट पर चले जायेंगे. जहाँ आप इस संबंद्ध में और जानकारी प्राप्त कर पायेंगे.

आप सबके अपने इस साईट पर प्रकाशित कुछ अन्य प्रकाशनों की सूचि निचे दी गयी है. आप इन्हें अवस्य देखें.

Maharaja Agrasen Ji Ki Aarti : महाराज अग्रसेन जी की आरती

Ahoi Mata Ki Aarti – अहोई अष्टमी के दिन करें अहोई माता की आरती

Baba Ramdev Ji Ki Aarti – बाबा रामदेव जी की आरती

Jai Adhya Shakti Aarti Lyrics – माँ आद्य शक्ति की आरती

Shri Banke Bihari Ki Aarti – श्री बांके बिहारी जी की आरती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!