Aakash Gayatri Mantra – आकाश गायत्री मंत्र

Aakash Gayatri Mantra आकाश गायत्री मंत्र – आकाश गायत्री मंत्र एक सफल मंत्र है. इस मंत्र के श्रद्धा और भक्ति के साथ पाठ करने से अद्भुत फल प्राप्ति होती है.

आकाश को हमारे पंच तत्वों में गिना जाता है. पांच तत्वों के योग से इस श्रृष्टि का निर्माण हुआ है. उसमे आकाश भी एक तत्व है.

आकाश गायत्री मंत्र का सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ पाठ करें.

Aakash Gayatri Mantra आकाश गायत्री मंत्र

Aakash Gayatri Mantra
Aakash Gayatri Mantra

ॐ आकाशाय च विद्महे नभो देवाय धीमहि, तन्नो गगनं प्रचोदयात् ||

Om Aakashaay Cha Vidmahe Nabho Devaay Dheemahi Tanno Gaganam Prachodayat.

How to Chant?

सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ श्री आकाश गायत्री मंत्र का पाठ करें.

सम्पूर्ण रूप से पवित्र और स्वच्छ होकर श्री आकाश गायत्री मंत्र का पाठ करें.

आकाश गायत्री मंत्र का पाठ 108 बार करें.

Benefits of Aakash Gayatri Mantra

श्री आकाश गायत्री मंत्र से अगर पञ्च तत्वों में से आकाश तत्व में कोई भी खराबी हो तो उसका निदान हो जाता है.

सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ श्री आकाश गायत्री मंत्र के पाठ से शारीरिक व्याधियों से मुक्ति मिलती है.

इसके अलावा मानसिक शान्ति मिलती है.

जीवन में आने वाले कष्टों और तकलीफों से मुक्ति मिलती है.

शारीरिक बल में बृद्धि होती है.

जीवन में सुख और शान्ति आती है.

Download

अगर आप श्री आकाश गायत्री मंत्र को डाउनलोड करना चाहतें हैं तो निचे दिए गए डाउनलोड बटन पर क्लिक करें. इससे आप डाउनलोड पेज पर पहुँच जायेंगे. जहाँ से आप इसे डाउनलोड कर पायेंगे.

हमारे द्वारा प्रकाशित अन्य गायत्री मंत्र के संग्रह को अवस्य देखें –

Shri Shiv Gayatri Mantra

Hanuman Gayatri Mantra

Shri Ganesh Gayatri Mantra

Surya Gayatri Mantra

Shri Vishnu Gayatri Mantra

Maa Durga Gayatri Mantra

Brahma Gayatri Mantra

Dakshinamurthy Gayatri Mantra

Nandi Gayatri Mantra

Garuda Gayatri Mantra

Dhanvantari Gayatri Mantra

Shri Krishna Gayatri Mantra

Radha Gayatri Mantra

Shri Ram Gayatri Mantra

Tulsi Gayatri Mantra

Chandra Gayatri Mantra

Budh Gayatri Mantra

Guru Brihaspati Gayatri Mantra

Shukra Gayatri Mantra

Shani Gayatri Mantra

Rahu Gayatri Mantra

Ketu Gayatri Mantra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *