Annapurna Gayatri Mantra – अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र

Annapurna Gayatri Mantraअन्नपूर्णा गायत्री मंत्र – अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र एक सिद्ध और शक्तिशाली मंत्र है. माँ अन्नपूर्णा की आराधना और स्तुति करें, अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र के पाठ से.

माँ अन्नपूर्णा की कृपा से दुःख और दारिद्र्ता से मुक्ति मिलेगी. जिस पर भी माँ अन्नपूर्णा की कृपा रहती है उसे दारिद्र्ता कभी नहीं सताती है. धन धान्य से उसका घर सदा भरा रहता है.

Annapurna Gayatri Mantraअन्नपूर्णा गायत्री मंत्र

Annapurna Gayatri Mantra

ॐ भगवत्यै च विद्महे, महेश्वर्यै च धीमहि, तन्नोन्नपूर्णा प्रचोदयात् ।।

Om Bhagwatae Cha Vidmahe Maheshwaryae Cha Dheemahi Tannoannapurna Prachodayat.

Also Read Annapurna Stotram

How to chant Annapurna Gayatri Mantra?

अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र का पाठ सम्पूर्ण रूप से स्वच्छ और पवित्र होकर ही करें. सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ माँ अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र का पाठ करें. प्रातः काल और संध्या काल का समय अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र के पाठ के लिए उत्तम होता है. अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र का पाठ 108 बार करें. पूजा करने के पश्चात अन्नपूर्णा जी की आरती करें.

Benefits of Annapurna Gayatri Mantra

अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र के पाठ से माँ अन्नपूर्णा की कृपा की प्राप्ति होती है. माँ अन्नपूर्णा की कृपा से दुःख और दारिद्र्ता का नाश होता है. कभी भी धन धान्य की कमी नहीं होने पाती है.

अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र पीडीऍफ़

अन्नपूर्णा गायत्री मंत्र को पीडीऍफ़ में डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए डाउनलोड बटन पर क्लिक करें. इससे एक नया पेज आपके समक्ष खुलेगा जहाँ से आप इसे आसानी से डाउनलोड कर पायेंगे. साथ ही अगर आप इसे प्रिंट करना चाहें तो सीधे प्रिंट भी कर पायेंगे.

हमारे अन्य प्रकाशनों को भी अवस्य देखें –

Leave a Comment